भाई बहन के इस त्यौहार पर एक तरफ जहां बंदी भाइयों का प्यार बहनों के लिए उमड़ा, तो वहीं बहनों के भी आंसू छलक आए




मनोज तोमर ब्यूरो चीफ दैनिक फ्यूचर लाइन टाईम्स गौतम बुद्ध नगर
गौतम बुद्ध नगर।परंपराओं से सम्रद्ध हमारे देश में आज भी त्योहार पर लोग दिल खोल कर खुशियां मनाते हैं भले ही उनके दिल के अन्दर लाखों दुख छिपे हों अपने दिल का हाल छिपाते ऐसी ही बहनों ने भैया दूज के दिन गौतम बुद्ध नगर की जेल पहुंचकर अपने भाई के माथे पर तिलक लगाया और उनकी लम्बी उम्र की कामना करते हुए रिहाई की कामना भी की।जेल अधीक्षक अरूूण प्रताप ने जेल के दरवाजे भाई दूज के त्यौहार पर बंदियों से मिलने के लिए आई बहनों के लिए खोल दिए गए, जहां भैया दूज का त्यौहार बहनों ने जेल में बंद भाइयों के साथ बिना किसी रोक-टोक के मनाया।भाई बहन के इस त्यौहार पर एक तरफ जहां बंदी भाइयों का प्यार बहनों के लिए उमड़ा, तो वहीं बहनों के भी आंसू छलक आए। यूपी सरकार ने इस भैया दूज के त्यौहार पर जेल में बंद कैदियों को राहत देते हुए त्यौहार मनाने की मंजूरी दी जिसके तहत गौतम बुध नगर जेल अधीक्षक अरुण प्रताप के नेतृत्व में अधीनस्थों ने तैयारी भी की तथा जेल अधीक्षक अरुण प्रताप ने भी भाई और बहन की बिना किसी बाधा के खुले दिल से मुलाकात कराई और जेल में बंद कैदियों से मुलाकात के लिए छूट दी।अपने भाइयों से मिलने वाली बहनों ने जेल अधीक्षक अरुण प्रताप व उनके अधीनस्थों की सराहना करते हुए कहा कि भाई-बहन के त्यौहार पर जेल प्रशासन ने मुलाकात करा कर सराहनीय एवं प्रशंसनीय काम किया है।जेल अधीक्षक अरुण प्रताप ने कहा कि भैया दूज का त्यौहार कैदियों के लिए भी एक बड़ा ही महत्वपूर्ण त्यौहार होता है और आज सभी महिलाओं को अलग अलग समूहों में रखकर उनके भाइयों से मिलाया गया। अरुण प्रताप ने कहा कि कई कैदियों ने उन्हें बताया कि भैया दूज के मौके पर उनकी बहनों ने उनसे अपराध से दूरी बना लेने का वादा लिया।जेलर जे पी तिवारी ने बताया की जिला कारागार गौतमबुधनगर में भाई बहन का पावन पर्व भाई दूज का त्योहार मनाया गया। जिसमें महिला मुलाकाती-1305 बच्चे-466,पुरुष मुलाकाती-02रही।जेल अधीक्षक अरुण प्रताप ने यह भी कहा कि बंदियों से बात करने के दौरान उन्हें लगा कि बंदी अपनी बहनों से किए वादे को निभाना भी चाहते हैं।

Post a Comment

0 Comments