अखिल भारतीय गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान में स्व. राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित

कर्मवीर आर्य संवाददाता दैनिक फ्यूचर लाइन टाईम्स गौतमबुद्ध नगर।
ग्रेटर नोएडा, 11 जून 2024– अखिल भारतीय गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान के प्रांगण में आज पूर्व केंद्रीय मंत्री और किसानों के लोकप्रिय नेता स्व. श्री राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर संस्थान के प्रमुख पदाधिकारियों और सदस्यों ने मिलकर पायलट जी को पुष्पांजलि अर्पित की और उनके अद्वितीय योगदान को याद किया।
स्व. राजेश पायलट भारतीय राजनीति में एक ऐसे नेता के रूप में जाने जाते हैं जिन्होंने अपने जीवनकाल में किसानों और मजदूरों के हक की लड़ाई लड़ी। उनके प्रयासों से कई महत्वपूर्ण नीतियाँ और सुधार लागू हुए जो आज भी ग्रामीण भारत की समृद्धि में योगदान कर रहे हैं। उनकी पुण्यतिथि पर आयोजित इस कार्यक्रम में उनके इन्हीं योगदानों को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।
कार्यक्रम की शुरुआत संस्थान के अध्यक्ष मृगांका सिंह ने स्व. राजेश पायलट के चित्र पर माल्यार्पण कर की। उन्होंने पायलट जी के जीवन और कार्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा, राजेश पायलट ने अपने जीवन में जो योगदान दिया, वह आज भी हमारे समाज के लिए प्रेरणादायक है। उनके प्रयासों से हमारे किसान और मजदूरों को जो अधिकार मिले, वे अमूल्य हैं।
सचिव योगेंद्र सिंह भाटी एडवोकेट ने अपने संबोधन में कहा, “राजेश पायलट का जीवन सच्चे सेवक का उदाहरण है। उन्होंने न केवल किसानों के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ी, बल्कि उनके सामाजिक और आर्थिक उत्थान के लिए भी महत्वपूर्ण कार्य किए। उनकी पुण्यतिथि पर हम उन्हें याद कर उनके आदर्शों का अनुसरण करने का संकल्प लेते हैं। रूपचंद मुनीम ने कहा,पायलट जी की दूरदर्शिता और नेतृत्व ने हमारे समाज में एक महत्वपूर्ण बदलाव लाया। उनके प्रयासों ने कई गरीब और जरूरतमंद परिवारों की जिंदगी में रोशनी बिखेरी है। उनका समर्पण और साहस हमें हमेशा प्रेरित करता रहेगा। वीरेंद्र सिंह डाढा ने राजेश पायलट के प्रति अपने सम्मान को व्यक्त करते हुए कहा, “आज हम जिस स्थान पर हैं, उसमें पायलट जी के योगदान को नहीं भुलाया जा सकता। उनके संघर्षों और प्रयासों ने हमारे समाज को मजबूत किया है।”
सुखबीर सिंह आर्य, जयकरण भाटी, और वीर सिंह नागर ने भी अपने विचार साझा करते हुए पायलट जी के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि पायलट जी के आदर्शों और कार्यों का अनुसरण करना ही उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर आयोजित इस श्रद्धांजलि सभा में सभी ने उनके योगदानों को याद करते हुए उनके प्रति अपनी श्रद्धा प्रकट की। इस अवसर पर सभी ने मिलकर यह संकल्प लिया कि वे पायलट जी के आदर्शों पर चलकर समाज के उत्थान और किसानों के कल्याण के लिए निरंतर प्रयास करते रहेंगे। अखिल भारतीय गुर्जर संस्कृति शोध संस्थान में आयोजित इस कार्यक्रम ने न केवल स्व. राजेश पायलट के प्रति सम्मान व्यक्त किया, बल्कि समाज के प्रति उनकी सेवा और योगदान को भी उजागर किया। उनकी विरासत आज भी जीवित है और उनके आदर्श हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत बने रहेंगे। इस प्रकार की श्रद्धांजलि सभाएँ हमें हमारे इतिहास के महान नायकों को याद रखने और उनके द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करती हैं। श्रद्धांजलि सभा में संस्थान के अध्यक्ष मृगांका सिंह, सचिव योगेंद्र सिंह भाटी एडवोकेट, कोषाध्यक्ष रूपचंद मुनीम, और अन्य प्रमुख सदस्य जैसे वीरेंद्र सिंह डाढा, सुखबीर सिंह आर्य, जयकरण भाटी, वीर सिंह नागर, हातम सिंह भाटी, और प्रताप नागर शामिल थे। सभी ने स्व. राजेश पायलट के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की और उनके आदर्शों और कार्यों के प्रति सम्मान प्रकट किया।

Post a Comment

0 Comments