राजेश पायलट की 24वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि: सचिन पायलट का वैदपुरा आगमन और डीएनडी पर भव्य स्वागत

कर्मवीर आर्य संवाददाता दैनिक फ्यूचर लाइन टाईम्स गौतमबुद्ध नगर।
नोएडा 11 जून 2024 – पूर्व केंद्रीय मंत्री और किसानों के मसीहा स्व. राजेश पायलट की 24वीं पुण्यतिथि के अवसर पर, उनके पुत्र और राजस्थान सरकार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने अपने पैतृक गाँव वैदपुरा का दौरा किया। इस मौके पर, नोएडा में डीएनडी फ्लाईओवर पर सचिन पायलट का भव्य स्वागत हुआ। नोएडा महानगर के पूर्व अध्यक्ष रामकुमार तंवर के नेतृत्व में यह स्वागत समारोह आयोजित किया गया, जहां पायलट को उनकी पिता की विरासत के सम्मान में भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की गई। सचिन पायलट के आगमन पर डीएनडी फ्लाईओवर पर स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने गर्मजोशी से उनका स्वागत किया। रामकुमार तंवर के नेतृत्व में आयोजित इस स्वागत समारोह में बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हुए, जिन्होंने सचिन पायलट के प्रति अपना समर्थन और सम्मान व्यक्त किया। तंवर ने कहा, “सचिन पायलट ने अपने पिता के सिद्धांतों और संघर्षों को आगे बढ़ाते हुए समाज और देश के लिए अनमोल योगदान दिया है। हम उनके प्रति गर्वित हैं और उनकी हर यात्रा में उनका साथ देंगे। स्व. राजेश पायलट को उनके पैतृक गाँव वैदपुरा में श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए, सचिन पायलट ने अपनी पिता की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की और उन्हें नमन किया। इस अवसर पर उन्होंने अपने पिता के समाज के प्रति योगदान और उनके संघर्षों को याद करते हुए कहा, “मेरे पिता का जीवन और उनकी सेवाएँ आज भी हमें प्रेरित करती हैं। उन्होंने हमेशा किसानों और मजदूरों के अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ी और समाज के कमजोर वर्गों के लिए आवाज उठाई।
रामकुमार तंवर ने इस मौके पर राजेश पायलट को याद करते हुए कहा, “राजेश पायलट जैसे जमीनी नेता मुश्किल से सदियों में जन्म लेते हैं। उनके संघर्ष और समर्पण ने उन्हें कांग्रेस के अग्रणी नेताओं में शामिल किया, और उनकी विरासत आज भी जीवित है। उन्होंने हमें सिखाया कि जब तक गरीब किसान और मजदूर अपने हक के लिए लड़ते रहेंगे, तब तक हमारी जिम्मेदारी है कि हम उनके साथ खड़े रहें।
सचिन पायलट ने अपने पिता के प्रसिद्ध भाषण को उद्धृत करते हुए कहा, “जब तक गरीब किसानों के बेटे पढ़-लिखकर उस कुर्सी पर नहीं बैठेंगे जहां से देश की नीतियां बनती हैं, तब तक इस देश का विकास संभव नहीं होगा।” इस कथन ने सभा में उपस्थित सभी लोगों को गहराई से प्रभावित किया और उन्हें राजेश पायलट के विचारों पर पुनः विचार करने के लिए प्रेरित किया। राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर आयोजित इस कार्यक्रम ने न केवल उनके प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करने का अवसर दिया, बल्कि उनकी विरासत को भी संजोए रखने का संदेश दिया। उन्होंने अपने जीवन में जो योगदान दिया, वह आज भी समाज के हर वर्ग के लिए प्रेरणादायक है। इस कार्यक्रम ने समाज को उनके आदर्शों पर चलने और उनके द्वारा दिखाए गए मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया।
स्व. राजेश पायलट की पुण्यतिथि पर वैदपुरा में सचिन पायलट का दौरा और डीएनडी पर भव्य स्वागत ने यह साबित कर दिया कि उनकी विरासत आज भी जीवित है और समाज के हर कोने में गूंज रही है। उनकी सेवाएँ और संघर्ष हमें यह सिखाते हैं कि सच्ची सेवा और नेतृत्व का क्या अर्थ होता है। इस अवसर पर समाज के सभी वर्गों ने मिलकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके सिद्धांतों को जीवित रखने का संकल्प लिया।इस महत्वपूर्ण अवसर पर कई प्रमुख नेता और समाजसेवी उपस्थित थे, जिनमें रामकुमार तंवर, एआईसीसी सदस्य श्री बबली नागर, पीसीसी सदस्य देवेंद्र भाटी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय चौधरी, पीसीसी सदस्य रिजवान चौधरी, कांग्रेस नेता अशोक पंडित, हरेन्द्र शर्मा, जितेंद्र चौधरी, शाहिद सिद्दीकी, सचिन तंवर, रोहित नागर, और संदीप सिंह शामिल थे। सभी ने मिलकर राजेश पायलट को श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके प्रति अपने सम्मान को प्रकट किया।

Post a Comment

0 Comments