दादरी देहात क्षेत्र: विकास की अव्यवस्था और बड़ी जनता की मुश्किलें।



 मनोज तोमर ब्यूरो चीफ दैनिक फ्यूचर लाइन टाईम्स गौतमबुद्ध नगर।
ग्रेटर नोएडा। आफिसर्स इण्टर नेश्नल विधालय के चैयरमैन विनोद नागर ऐडवोकेट ने जन आंदोलन की मूहीम को अपना समर्थन देते हुए कहा कि ग्राम सैनी ग्रेटर नोएडा वेस्ट 130 मीटर रोड से बादलपुर वाया कल्दा ईस्टर्न पेरिफेरल रोड तक का 60 मीटर सम्पर्क मार्ग बनने के बाद दादरी छेत्र के विकास के द्वारा खोलेगा। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अनदेखे कदम से दादरी छेत्र की बढ़ती समस्याएं ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की सोची समझी रणनीति का मुख्य हिस्सा है।

हालात का अद्यतन: दादरी देहात क्षेत्र के विकास की अव्यवस्था ने लोगों के जीवन को कठिन बना दिया है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अनदेखे कदमों के कारण, जनता को सड़कों और सुविधाओं की व्यवस्था में समस्याएं झेलनी पड़ रही हैं। 

सड़कों की असमंजस्यता: सैक्टरों की सड़कों की बनावट में असमंजस्यता ने गाँवों के लोगों को परेशान किया है। यहाँ तक कि सैक्टर की सड़कों का दो बार एक साल में बनना और गांवों की गड़े युक्त सड़कों की समस्या जनता को उन्नत सुविधा से वंचित कर रही है। 

अव्यवस्था की मुश्किलें: 130 मीटर ग्रेटर नोएडा वेस्ट रोड से ईस्टर्न पेरिफेरल रोड कल्दा तक का सम्पर्क मार्ग का कार्य लगभग 16 वर्षों से प्राधिकरण की लापरवाही के कारण बन्द है
गावों में नाली-खरंजे की अव्यवस्था और अन्य सम्पर्क मार्गों का अधूरापन, जनता को जीवन की सुविधा से वंचित कर रहा है। 

समाधान की जरुरत: इस अव्यवस्था को सुधारने के लिए, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को सक्रिय रूप से कदम उठाने की जरुरत है। सुधारों के लिए तत्पर जन आंदोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमवीर सिंह आर्य और जन आंदोलन संगठन को आम जनता के सहयोग की अत्यंत आवश्यकता है और कहा कि जन आंदोलन संगठन का कार्य बहुत सराहनीय है ।

नई दिशा और दशा बदलेगा सम्पर्क मार्ग का 60 मीटर रोड: ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को लोगों के संवेदनशीलता को समझने और समस्याओं को समाधान करने के लिए नई दिशा में कदम उठाने की अत्यंत आवश्यकता है।

Post a Comment

0 Comments